Raat Ke Rahi Thak Mat Jana lyrics in hindi


फिल्म Babla
वर्ष 1953
संगीत निर्देशक Robin Chatterjee, S D Burman
गायक Lata Mangeshkar
गीतकार Sailen Dey and Sahir Ludhianvi
अवधि 3:30

Not Rated Yet

रात के रही रात के रही थक मत जाना सुबह की मंज़िल दूर नहीं दूर नहीं रात के रही धरती के फैले आँगन में पल दो पल है रात का डेरा २ ज़ुल्म का सीना चिर के देखो झांक रहा है नया सवेरा ढलता दिन मजबूर सही चढ़ाता सूरज मजबूर नहीं मजबूर नहीं थक मत जाना हो रही थक मत जाना रात के रही सदियों तक चुप रहनेवाले अब अपना हक्क लेके रहेंगे २ जो करना है खुल के करेंगे जो कहना है साफ़ कहेंगे जीते जी घुट घुट कर मरना इस जग का दस्तूर नहीं दस्तूर नहीं थक मत जाना हो रही थक मत जाना रात के रही टूटेंगी बोझल जंजीरे जागेंगी सोयी तकदीरे २ लूट पे कब तक पेहरा देंगी जुंग लगी खुनी शमशीरे रह नहीं सकता इस दुनिया में जो सब को मंज़ूर नहीं मंज़ूर नहीं थक मत जाना हो रही थक मत जाना रात के रही
Raat Ke Rahi Thak Mat Jana hindi lyrics, Raat Ke Rahi Thak Mat Jana Babla lyrics in hindi, Raat Ke Rahi Thak Mat Jana ke lyrics, Raat Ke Rahi Thak Mat Jana ke hindi lyrics
Latest Movies Bang Bang Khoobsurat Bobby Jasoos Ek Villain Fugly Holiday Heropanti 2 States Shaadi Ke Side Effects Gulaab Gang Latest Songs Lakeerein Hain Toh Rahne Do Zinda Hoon Taake Jhaake Ranjha Kashmir Main Tu Kanyakumari Machchli Jal Ki Rani Hai Chumma Chaati Zor Laga Ke Haishaa Jimmy Bhand Maahi Ve London Thumakda Heer Gulchharey Meri Maa Jashn Hai Yeh Mere Dil Ka 2013 Movies List Latest Albums Saajna Re Blue Eyes Exotic O Heeriye Rainbow Recent Visits Kabhi Bhoola Kabhi Yaad KiyaChudiya Bajau Ki Bajaau KangnaJo Tu Mera Hamdard HaiAtom Bomb In HindiShuru Ho Rahi Hai Prem Kahani In Hindi